बिजय नामक व्यक्ति पुलिस से फरियाद करते करते थक गया।

0
Spread the love

उत्तराखंड /नैनीताल ,रिपोर्ट – ललित जोशी।

एंकर। सरोवर नगरी नैनीताल से लगभग 20 किलोमीटर दूर मंगोली चौकी में एक फरियादी फरियाद करते करते थक गया। वहाँ तैनात चौकी इंचार्ज व सिपाहियों ने स्टाफ कमी की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया।


यहाँ बता दे सरोवर नगरी नैनीताल से लगभग 20 किलोमीटर दूर नैनीताल कालाढूंगी मार्ग पर ग्रामीणों की सेवा के लिए पुलिस चौकी बनायी गयी है।
जिसमें स्थानीय लोग अपनी फरियाद कर सकते हैं।
यहाँ बताते चलें कुछ दिन पूर्व गाँव जसयुडा के युवक बिक्रम सिंह कनवाल ने अपने ही घर में नशे की हालत में परिजनों से मारपीट कर दी थी।
जिस पर उसके कई परिवार के सदस्य चोटिल हो गये।

यह भी पढ़ें -  झूठी बयान बाजी करने वाले कांग्रेस प्रत्याशी एक बार सरकारी आंकड़े ही देख लेते, तो आज फजीहत नहीं होती..अजय भट्ट

जिसकी एफआईआर कोतवाली प्रभारी मल्लीताल में लिखा दी गयी थी।

पुलिस ने एफआईआर मंगोली चौकी को स्थानांतरित कर दी।

पीड़ित परिवार के सदस्य बिजय सिंह कनवाल समेत परिवार के सदस्यों ने मंगोली चौकी से न्याय की गुहार लगायी ।

जिस पर चौकी इंचार्ज ने स्टाफ न होने की बात कहकर पल्ला झाड़ दिया। यह भी कहा बिक्रम सिंह को नशा मुक्ति केंद्र ले जाओ।
इधर बिजय सिंह कनवाल ने एसएसपी को भी मोबाइल के माध्यम से जानकारी दी है।
जिस पर एसएसपी ने कोतवाली प्रभारी मल्लीताल को कहने की बात कह कर बात टाल दी है।

यह भी पढ़ें -  केंद्रीय संचार ब्यूरो नैनीताल के तत्वाधान में मतदाता जन जागरूकता कार्यक्रम

अब यह देखना है बिजय सिंह कनवाल के परिजनों को न्याय मिलता है या इसी प्रकार दिन रात पुलिस चौकी में अपनी हाजिरी लगाते हुए समय का इंतजार करते रहेंगे।
एफआईआर लिख कर भी न्याय न मिले तो पुलिस पर कौन भरोसा करेगा ।
जहां एक ओर पुलिस के बड़े बड़े अधिकारी मित्र पुलिस की बात कहती हैं ।
वही पुलिस चौकी इंचार्ज, एस आई, तमाम पुलिस के सिपाही पुलिस की छवि को धूमिल करने में पीछे नहीं हट रहे हैं।
बिजय ने मीडिया से भी गुहार लगायी है । उसको व उसके परिवार को न्याय मिल सके।

यह भी पढ़ें -  आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड में कांग्रेस को दिया समर्थन।

ग्राउंड जीरो से ललित जोशी की रिपोर्ट ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page