गैरसैंण में सत्र को लेकर कांग्रेस का प्रलाप राजनीति से प्रेरित:चौहान।

0
Spread the love

 शैलेन्द्र कुमार पाण्डेय।8210438343,9771609900
देहारादून 1 जून 2022।
भाजपा ने देहरादून में बजट सत्र आयोजित कराये जाने के निर्णय की आलोचना करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत व अन्य कोंग्रेसी नेताओं पर पलटवार करते हुए कहा कि सत्र स्थल परिवर्तित करने के पीछे सरकार का मकसद आम जनता की सहूलियत और यात्रा व्यवस्था को बनाये रखना है।वहीं कांग्रेस का प्रलाप राजनिति से प्रेरित है।

पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि यह वही नेता और वही पार्टी है जो राजधानी गैरसैंण तो क्या राज्य बनाने के पक्ष में भी कभी नहीं रहे ।

 उन्होने हैरानी जताई कि कल तक चारधाम यात्रा में विपरीत प्राकृतिक परिस्थितियों के चलते हो रही दुखदाई मौतों को व्यवस्थता की नाकामी बताते हुए जो लोग बाहर से आने वाले पर्यटकों में भय का वातावरण बनाने का कार्य कर चारधाम यात्रा में आने से पर्यटकों को रोक रहे थे, जिससे उत्तराखण्ड की अर्थिकी की रीड कहे जाने वाली चारधाम यात्रा में ख़लल डालने का प्रयास कर रहे थे । आज वही व्यवस्थता सुचारु और बेहतर बनाए रखने के लिए सरकार द्वारा विधानसभा सत्र स्थान परिवर्तन पर राजनैतिक रोटियाँ सेकने लगे हैं । कॉंग्रेस को स्पष्ट करना होगा कि वह इंसानी जानों और राजनीति में किसे अधिक महत्व देते हैं ।

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने घायल को अपने गाड़ी से भेजा अस्पताल।

 मनवीर चौहान ने कहा कि राज्य निर्माण की लड़ाई से लेकर ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने तक प्रत्येक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में भारतीय जनता पार्टी का अमूल्य योगदान है। गैरसेण के विकास को लेकर भाजपा की सभी सरकारों ने अभूतपूर्वक कार्य किए है चाहे वहाँ पेयजल समस्या का हल हो, सड़क व मोबाइल-इंटरनेट कनेक्टिविटी बेहतर करना हो, चाहे स्वास्थ्य, विधुत व अन्य व्यवस्थता को दुरुस्त रखना हो। वहीं जो लोग बजट सत्र गैरसैंण में नहीं होने पर सार्वजनिक दुख व्यक्त कर रहे हैं उन्होने स्वयं सीएम रहते सिवाय हवा हवाई घोषणा के गैरसैंण के लिए कुछ नहीं किया। 

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उन्हें किया पुष्पांजलि अर्पित ।

उन्होने आरोप लगाया कि हाल में जब चार धाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी तो कोंग्रेसी नेताओं को सूबे के स्थानीय कारोबारियों व पर्यटन व्यवसाय सेलोगों की खुशी हजम नहीं हुई । उन्होने सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से यात्रा मार्ग पर होने वाली प्राकृतिक मौतों पर भी भ्रामक जानकारी फैलाकर राज्य को बदनाम करने का प्रयास किया। अब जब यात्रा पर आ रहे पर्यटकों की भारी संख्या के मद्देनजर, स्थानीय लोगों व प्रशासन की सलाह पर व्यवस्थता अधिक बेहतर करने के उद्देश्य से धामी सरकार ने बजट सत्र देहरादून में आयोजित करने का फैसला किया तो अब वही कॉंग्रेस स्थान बदलने की राजनैतिक उद्देश्य से आलोचना करने में जुटी है ।

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने काशीपुर पहुंचकर निर्माणाधीन एसटीपी प्लांट का किया निरीक्षण।

 उन्होने सवाल करते हुए कहा कि पहले कॉंग्रेस को अपना मत स्पष्ट करना चाहिए, वह चार धाम यात्रा पर आने वाले व व्यवस्थता करने वाले इंसानी जानों को अधिक महात्व देती है या गैरसैंण को लेकर अपने राजनैतिक उद्देश्य को ?
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page