उच्च शिक्षा/तकनीकी शिक्षा को तरसती लैंसडाउन विधानसभा

0
Spread the love

.

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा कोटद्वार, नरेंद्र नगर में केंद्रीय विध्यालय खोलने की केंद्र सरकार माँग स्वागत योग्य क़दम है l


लेकिन, यक्ष प्रश्न है पहाड़ी क्षेत्रों में हमारे बच्चे जो उच्च शिक्षा/तकनीकी शिक्षा से 21वीं शदी में भी वंचित हैं, उनकी सुध कौन लेगा और कब. जब इस चुनावी मौसम में भी सुध नही ली गई तो आगे उम्मीद भी कैसे करें?


लैंसडाउन विधान सभा में शिक्षा के क्षेत्र में सबसे पिछड़ा है जेहरीखाल ब्लाक और बेहद मार झेलने वाली पट्टियाँ हैं ; कौड़िया, तल्ला , मल्ला और बिचला बदलपुर. इसकी जानकारी ना बर्तमान भाजपा विधायक ना ही कांग्रेस पार्टी ही दे सकती है. हम देने जा रहे हैं :-आपको क्यूँकि हम धरातल से जुड़ी सामाजिक संस्था है. कोटद्वार, जैहरिखाल और रिखनिखाल तीन डिग्री कॉलेज है, जो आर्थिक या दूरी के हिसाब से क्षेत्रीय बच्चों की पहुँच से बहुत दूर है. आर्थिक रूप से संपन्न छात्र तो 12वीं के बाद डिग्री कॉलेज तक पहुँच जाते हैं. ऊपर से परिवहन ब्यवस्था न होने की दोहरी मार झेलने वाला क्षेत्र. ऐंसे में ग़रीब छात्र और बेटियों का भविष्य अंधकार में, न उच्च शिक्षा न तकनीकी शिक्षा. जनप्रतिनिधियों का शिक्षा स्वास्थ्य से कोई लेना देना नहीं, चुनाव लड़ा जीते और पाँच साल का रोज़गार और व्यवसाय बढ़ाने का जुगाड़, इतने तक ही सीमित होते हैं.

यह भी पढ़ें -  झूठी बयान बाजी करने वाले कांग्रेस प्रत्याशी एक बार सरकारी आंकड़े ही देख लेते, तो आज फजीहत नहीं होती..अजय भट्ट


क्षेत्रीय जनता की प्रखंड जैहरीखाल अंतर्गत, पट्टी तल्ला बदलपुर में स्तिथ राजकीय इंटर कॉलेज के उच्चीकरण की वैधानिक माँग को सर्वोत्थान सेवा संस्थान विगत दस वर्षों से उठा रही है, लेकिन सरकार के कानों पर जूँ तक नही रेंग रही. बता दें की यह यह इंटर कॉलेज क्षेत्र के छः (6) इंटर कोलेजो के केंद्र बिंदु में तो है ही लिंक रोड के माध्यम से भी जुड़ा हुआ है.
महोदय, कोटद्वार में केंद्रीय विध्यालय की घोषणा से BJP चुनाव जीत जायेगी, लेकिन लैंसडाउन विधान सभा में जीत बहुत दूर छिटकी दिख रही है. चुनावी जीत के लिये ही सही, अनुरोध है क्षेत्र की डिग्री कॉलेज की माँग को तुरंत स्वीकार कर घोषणा करें.
संस्थापक अध्यक्ष
सर्वोत्थान सेवा संस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page