पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने भी कांग्रेस छोड़ी

0
Spread the love


शैलेन्द्र रावत के बाद कांग्रेस को गढ़वाल में एक और बड़ा झटका
-पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने भी कांग्रेस छोड़ी

कोटद्वार/उत्तराखण्ड

लोकसभा चुनाव से पूर्व गढ़वाल में कांग्रेस को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे हैं। गत माह कोटद्वार विधानसभा सीट से विधायक रहे पूर्व विधायक एवं पूर्व ब्लाक प्रमुख शैलेन्द्र रावत के कांग्रेस छोड़ भाजपा में घर वापसी से लगे झटके को वह अभी झेल भी नहीं पाई कि आज पूर्व मुख्यमंत्री एवं गढ़वाल सांसद रहे भुवन चंद्र खंडूरी और विधानसभा अध्यक्ष रितु खंडूरी के भाई मनीष खंडूरी ने भी कांग्रेस को छोड़कर गढ़वाल में कांग्रेस को गहरा झटका दे दिया है। लोकसभा चुनाव होने वाले है, जिसको लेकर सभी राजनैतिक दलों में तैयारियां जोरों सें चल रही हैं।

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने गड़ी कैंट में 12 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन सामुदायिक भवन का किया निरीक्षण।

एक तरफ भाजपा ने अपनी उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है, तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस में अभी भी मंथन का दौर जारी है।इसी बीच आज कांग्रेस सें भी एक बड़ी खबर सामने आयी है। पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी ने कांग्रेस से अलविदा कर दिया है। यह बात उन्होंने आज अपने सोशल मीडिया अकाउंट में पोस्ट डालकर कही है। शैलेन्द्र रावत के बाद अब मनीष खंडूरी के कांग्रेस छोड़ने से कांग्रेस में हलचल मची हुई है। लोकसभा चुनाव के उम्मीदवार की घोषणा से पहले कांग्रेस पार्टी को यह बड़ा झटका लगा है। मनीष खंडूरी कांग्रेस पार्टी की ओर से 2019 में पौड़ी लोक सभा सीट से चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page