एक्सपीरियन टैक्‍नोलॉजीज़ वैश्विक विस्तार के लिए 50 करोड़ रुपये का निवेश और 1,500 आईटी पेशेवरों की नियुक्ति करेगी

0
Spread the love

· कंपनी की अगले 12 महीनों में 50 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करने की योजना है, जिससे जापान तथा नॉर्डिक्स पर विशेष रूप से ध्‍यान देते हुए, वैश्विक बाजारों में अपनी उपस्थिति को मजबूत किया जा सके

· अगले दो वर्षों के भीतर 600 नए आईटी स्नातकों सहित, अतिरिक्त 1,500 आईटी पेशेवरों की नियुक्ति की जाएगी।

देहरादून- 18 मई, 2023 । भविष्य के लिए तैयार डिजिटल समाधानों के साथ उद्यमों को सक्षम बनाने वाली एक वैश्विक उत्पाद इंजीनियरिंग सेवा कंपनी, एक्‍सपीरियन टैक्‍नोलॉजीज़ ने जापान, नॉर्डिक्स तथा अन्य मौजूदा बाजारों, जैसे यूएस, ऑस्ट्रेलिया / न्यूजीलैंड, यूनाइटेड किंगडम और मेनलैंड यूरोप में अपने अंतरराष्ट्रीय परिचालन का विस्तार करने और क्षमता निर्माण करने की अपनी रणनीतिक योजना की घोषणा की है। कंपनी ने अगले 12 महीनों में वैश्विक विस्तार के लिए 50 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं। कंपनी उन बाजारों में टैक्निकल, सीनियर सेल्‍स तथा डोमेन प्रैक्टिस लीडर्स नियुक्‍त करके अपनी स्थानीय उपस्थिति को मजबूत करना चाहती है।

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने गड़ी कैंट में 12 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन सामुदायिक भवन का किया निरीक्षण।

जून में, एक्‍सपीरियन जापान में परिचालन शुरू करेगी। कंपनी की उन्नत तकनीकी क्षमताओं, उत्पाद इंजीनियरिंग प्रक्रिया सक्षमता, और यूएस, यूके तथा ऑस्ट्रेलिया जैसे अन्य बाजारों से प्राप्त ज्ञान को एशियाई राष्‍ट्रों में लाने की योजना है। इसके अतिरिक्त, कंपनी ऑटोमोटिव और एंबेडेड सिस्टम्स सहित इंजीनियरिंग वर्टिकल के लिए क्षमता निर्माण में निवेश करेगी।

विस्तार योजना के एक हिस्‍से में ऑनसाइट नियुक्ति में बढ़ोत्‍तरी भी शामिल है – एक्सपीरियन ने अपने यूएस और ऑस्‍ट्रेलिया तथा न्‍यूज़ीलैंड कार्यालयों के लिए स्थानीय इंजीनियरों को नियुक्त करना शुरू कर दिया है, यह भारतीय कंपनियों द्वारा यूएस में किए गए निवेश में इज़ाफ़ा कर रही है और स्थानीय बाजार में अधिक नौकरियां उपलब्‍ध करा रही है।

इसके अतिरिक्त, एक्सपीरियन ने कुल निवेश में से भारत में डिलीवरी क्षमता को बढ़ावा देने के लिए बजट आवंटित किया है। एक्सपीरियन की योजना वर्ष 2025-26 तक अपने कुल कर्मचारियों की संख्या में 1,500 आईटी पेशेवरों का इज़ाफ़ा करके, इसे दोगुना कर 3,000 तक पहुँचाने की है। दुनिया भर के ग्राहकों में उत्पाद इंजीनियरिंग की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए, एक्सपीरियन दक्षिण भारत – जहां इसके तीन वितरण केंद्र स्थित हैं: त्रिवेंद्रम, कोच्चि तथा बेंगलुरु – में उपलब्ध माइनिंग और अपस्किलिंग होमग्रोन आईटी प्रतिभा के अपने अनन्‍य लाभ पर निर्भर करता है, ।

यह भी पढ़ें -  सूबे में बेसिक शिक्षकों के 3600 पदों पर होगी भर्तीः डा. धन सिंह रावत।

एक्सपीरियन टेक्नोलॉजीज के प्रबंध निदेशक और मुख्‍य कायकारी अधिकारी, श्री बीनू जैकब ने विस्तार की रणनीति पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘’उत्पाद इंजीनियरिंग वैश्विक बाजारों में डिजिटल डोमेन के भीतर उन उद्योगों में मांग की अपार संभावनाओं को देख रही है, जिनमें हम काम करते हैं। हम इन नए बाजारों में उस यात्रा का हिस्सा बनने का एक रोमांचक अवसर देखते हैं। एक्सपीरियन ने पहले से ही विभिन्‍न तकनीकी पोर्टफोलियो को कवर करने वाले कई मौजूदा तकनीकी लीड्स को स्थानीय जापानी भाषा और संस्कृति में व्यापक प्रशिक्षण प्रदान करना शुरू कर दिया है। वैश्विक मंदी के बीच हमारे निरंतर विकास, पोर्टफोलियो और बाजार विस्तार का श्रेय डिजिटल उत्पाद इंजीनियरिंग में हमारे स्‍थाई व्यापार मॉडल और पद्धतियों को दिया जा सकता है, जो हमारे ग्राहकों को लाभ पहुंचाते हैं।‘’

यह भी पढ़ें -  उत्तराखण्ड के चारों धामों के अलावा यात्रा मार्गों पर भी श्रद्धालुओं और वाहनों की धारण क्षमता का आंकलन किया जाए- मुख्यमंत्री

एक्सपीरियन का उद्देश्य दक्षिण भारत, विशेष रूप से केरल के शीर्ष कॉलेजों द्वारा तैयार की गईं अत्यधिक कुशल इंजीनियरिंग प्रतिभाओं का लाभ उठाना है। यह राज्य में उपलब्ध विशाल लेटरल टैलेंट पूल का दोहन करने में सबसे आगे रहा है, विशेष रूप से टेक्नोपार्क, तिरुवनंतपुरम, इन्फोपार्क, कोच्चि और बेंगलुरु के आईटी हब्‍स में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page