लैंसडोन का युवक कोटद्वार-दुग्गड़ा राष्टीय राजमार्ग बंद होने के बाबजूद टूर एंड ट्रैवल गाइड की ट्रेनिंग के लिए साइकिल से पहुचा कोटद्वार, रास्ते में कई बड़ी मुश्किलों का करना पड़ा सामना,फिर भी नही रुके कदम,सुरक्षित पहुँचा अपनी मंजिलें पर।

0
Spread the love

कोटद्वार। पहाड़ो पर आफत बनकर बरस रहा मानसून,जिससे कोटद्वार दुग्गड़ा राष्टीय राजमार्ग पर जगह जगह मलवा आने से मार्ग बंद कर दिया गया है..इसके बाबजूद लैंसडोन निवासी ऋषभ महारा कोटद्वार में होने वाले टूर एंड ट्रैवल गाइड की ट्रेनिंग के लिए ओर पर्यटन को बढानें देने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल कर लैंसडोन से साइकिल उठा कर कोटद्वार के लिए चल दिया.इस युवक ने लैनसडॉन से 41 किमी की दूरी साइकल से तय की जिसमें उनके पास 30केजी का बैग और अन्य समान था और इस दौरान दुग्गडा से कोटद्वार तक उनको 15 से 20 जगह भूस्खलन मिला.इस चुनोतियो को पार करने के लिए उन्हें 4km अपने कंधे में साइकल उठा चलना पड़ा है. साथ ही पाँचवे मील में 2 फ़ीट तक का पथरीला दल दल का सामना भी करना पड़ा.और वह सकुशल कोटद्वार पहुँचे और सिद्धबली मंदिर के सामने कई लोगों ने उनका उत्साह वर्धन कर फ़ोटो खिंचाई.

यह भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में राज्य में हो रहा चौमुखी विकास: आशा कोठारी।

इस दौरान ऋषभ ने कहा कि रास्ता की स्थिति बहुत ख़राब है और 5 या उससे अधिक दिन भी लग सकते है और जगह जगह गाड़ियाँ फँसी पड़ी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page