चारधाम यात्रा-लम्बी, लम्बी कतारों, दर्शन में लगने वाले अनावश्यक समय से मिलेगी मुक्तिः महाराज।

0
Spread the love

चारधाम यात्रा: जीएमवीएन की बुकिंग का आंकडा पहुंचा  8,79,05963 लाख

चारधाम यात्रा के लिए 1337261 यात्री करवा चुके हैं अपना पंजीकरण

शैलेन्द्र कुमार पाण्डेय।
देहरादून 12 अप्रैल 2023। चारों धामों के मन्दिरों में लगने वाली लम्बी-लम्बी कतारों और दर्शन में लगने वाले कई-कई घण्टों के समय को देखते हुये दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए दर्शन हेतु स्लॉट/टोकन वितरण एवं कतार प्रबन्धन की व्यवस्था लागू की गयी है।

सतपाल महाराज,कैबिनेट मंत्री

उक्त जानकारी देते हुए प्रदेश के
पर्यटन, धर्मस्व, संस्कृति, लोक निर्माण, सिंचाई, पंचायतीराज, ग्रामीण निर्माण एवं जलागम मंत्री सतपाल महाराज ने जारी अपने एक बयान में कहा कि चारों धामों श्री बद्रीनाथ, श्री केदारनाथ, श्री गंगोत्री एवं यमुनोत्री मन्दिरों में लगने वाली लम्बी-लम्बी कतारों और दर्शन में लगने वाले कई-कई घण्टों के समय को देखते हुये दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए दर्शन हेतु स्लॉट/टोकन वितरण एवं कतार प्रबन्धन की व्यवस्था लागू की गयी है। प्रत्येक धाम में उपलब्ध स्थान व आवासीय क्षमता के अनुरूप सम्बन्धित जिलाधिकारियों की सहमति के आधार पर धामों में दैनिक दर्शन हेतु सीमा का निर्धारण किया गया है।

यह भी पढ़ें -  कांग्रेसजनों ने राजीव गांधी को अर्पित किए श्रद्धा सुमन।राजीव भवन में प्रतिमा पर किए गए पुष्प अर्पित।

पर्यटन मंत्री महाराज ने कहा कि इस व्यवस्था के अन्तर्गत धामों की मन्दिर समितियों से मंदिरों को दर्शन हेतु खोले जाने की अवधि (घण्टों) से दैनिक दर्शन हेतु निर्धारित सीमा से विभाजित करते हुये एक-एक घण्टे के स्लॉट में दर्शनार्थियों की संख्या का निर्धारण किया गया है। जिससे दर्शनार्थियों को अपने स्लॉट समयावधि अधिकतम एक घण्टा ही कतार में लगना पड़ेगा। इतना ही नहीं प्रत्येक धाम में टोकन वितरण हेतु काउन्टर लगाये जायेंगे, जहां पर स्लॉट के अनुसार दर्शनार्थियों को टोकन वितरित किये जायेंगे। उन्होने कहा कि इससे चारधामों में आने वाले दर्शनार्थियों को न केवल मन्दिर में सुविधाजनक दर्शन होगें बल्कि धाम पर भ्रमण, संसाधनों के अवलोकन हेतु पर्याप्त समय भी सुलभ हो सकेगा।

पर्यटन, धर्मस्व एवं संस्कृति मंत्री ने चारधाम यात्रा के लिए श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि जिस प्रकार से यात्री लगातार अपना पंजीकरण करवा रहे हैं और गढ़वाल मंडल विकास निगम के गेस्ट हाउसों की बुकिंग का आंकडा बढ़ता जा रहा है वह प्रदेश के लिए शुभ संकेत है। निश्चित रूप से इस वर्ष की चारधाम यात्रा सभी व्यवसायियों के लिए लाभकारी सिद्ध होगी। गत वर्ष की भांति इस बार भी सरकार ने चारधाम यात्रा की तैयारियों एवं व्यवस्थाओं को चाक-चौबंद कर दिया है।

यह भी पढ़ें -  सादतपुर वार्ड और श्री राम कॉलोनी मंडल के करावल नगर विधानसभा के तुकमीरपुर, चांदबाग, यमुना विहार आयोजित जनसभा को कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने किया संबोधित।

सतपाल महाराज ने बताया कि 22 अप्रैल 2023 से शुरू होने जा रही है चारधाम यात्रा के तहत केदारनाथ-476811, बद्रीनाथ-398361, यमनोत्री-217815, गंगोत्री-241356 और हेमकुण्ड के लिए 2916 यात्री विभिन्न माध्यमों से अपना पंजीकरण करवा चुके हैं। अभी तक कुल 13 लाख 37 हजार 261 यात्री अपना पंजीकरण करवा चुके हैं। इतना ही नहीं 16 फरवरी 2023 से शुरू हुई जीएमवीएन गेस्ट हॉउसों की बुकिंग के तहत अभी तक कुल 87905963 (आठ करोड़ उनासी लाख पांच हजार नौ सौ तिरेसठ) रुपये की बुकिंग की जा चुकी है।

यह भी पढ़ें -  कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने पार्षद कमल थापा की अस्पताल पहुंचकर जाना कुशल क्षेम

सतपाल महाराज ने कहा कि केदारनाथ धाम के कपाट 25 अप्रैल को तो बदरीनाथ के 27 अप्रैल को खुलेंगे जबकि परंपरा के अनुसार 22 अप्रैल को अक्षय तृतीया के दिन गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट खुलेंगे।

सरकार ने चारधाम सहित हेमकुंड यात्रा के लिए भी अपनी सभी तैयारियां पूरी कर ली है। चारधाम यात्रा में आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा एवं सहायता के लिए आउट सोर्स माध्यम से पुरुष और महिला “पर्यटन सहायता व सुरक्षा मित्र” की तैनाती की जा रही है। उन्होंने चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा कि चार धाम यात्रा की विस्तृत सुविधाओं का लाभ लेने के लिए वह अपना पंजीकरण अवश्य करवाएं।

पर्यटन मंत्री ने कहा कि चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन पर्यटन विभाग की वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in, व्हाट्सएप नंबर 8394833833 या फिर टोल फ्री नंबर 1364 के जरिये भी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page